धरती माँ कि सेहत के लिए जैविक खेती करे

News

  • सभी कृषक बंधू ध्यान देवे 
    https://forms.gle/ACyKyR2Fe3zG37ma6
    किसान सारथी मोबाइल आधारित कृषि सलाह सेवा में आपका स्वागत है, यह सेवा आपके कृषि विज्ञान केंद्र गोविंदनगर, नर्मदापुरम के द्वारा निःशुल्क दी जा रही है, 
    ऊपर दिए लिंक पर क्लिक कर अपना पंजीयन कराये एवं  कृषि विज्ञान केंद्र गोविंदनगर, नर्मदापुरम काल सेंटर पर काल कर कृषि से सम्बंधित जानकारी एवं समस्याओं का समाधान प्राप्त करे |
    यदि आप इस सेवा के लिए इच्छुक नहीं है तो इस नंबर 01204741923 पर कॉल करे.
    पंजीयन  के बाद Toll free number – 14426/1800-123-2175 पर काल कर कृषि से सम्बंधित जानकारी एवं समस्याओं का समाधान प्राप्त कर सकते है |

     

    कृषि विज्ञान केन्द्र गोविंदनगर में सीड हब परियोजना की समीक्षा कार्यशाला संपन्न -

     कृषि विज्ञान केन्द्र गोविंदनगर में एक दिवसीय सीड हब परियोजना की समीक्षा कार्यशाला का आयोजन किया गया ।  बैठक का शुभारम्भ मुख्य अतिथि डॉ. वेद प्रकाश चहल, सहायक महानिदेशक कृषि प्रसार भा.कृ.अनु.प. नई दिल्ली,  डॉ.एस.आर.के.सिंह, निदेशक भा.कृ.अनु.प. अटारी ज़ोन-9 जबलपुर, डॉ. संजय वैशंपायन वरिष्ठ वैज्ञानिक (कीट विज्ञान) , डॉ.जे.एस.मिश्रा, निदेशक भा.कृ.अनु.प. खरपतवार अनुसंधान निदेशालय  जबलपुर, डॉ.पी.के.बिसेन, कुलपति (जवाहर लाल नेहरु कृषि विश्वविद्यालय जबलपुर), डॉ.वाय.पी.सिंह निदेशक विस्तार सेवा  (राजमाता विजयाराजे सिंधिया कृषि विश्वविद्यालय, ग्वालियर), डॉ.अजय वर्मा, निदेशक विस्तार सेवा (इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर), डॉ. दिनकर शर्मा, निदेशक विस्तार सेवा (जवाहर लाल नेहरु कृषि विश्वविद्यालय,जबलपुर), श्री अनिल अग्रवाल, अध्यक्ष (कृषि विज्ञान केंद्र, गोविंदनगर) एवं  डॉ. संजीव कुमार गर्ग, वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख, कृषि विज्ञान केंद्र गोविंदनगर की गरिमामयी उपस्थिति मे संपन्न हुआ। जिसमे मध्य प्रदेश एवं छत्तीसगढ़ कृषि विज्ञान केन्द्र के सीड हब परियोजना के प्रभारी एवं कृषि विज्ञान केंद्र, गोविंदनगर के वैज्ञानिक गण उपस्थित रहे ।

     अतिथियों एवं वैज्ञानिको द्वारा सर्वप्रथम गौशाला में गौ-पूजन कर सम्पूर्ण प्रक्षेत्र का भ्रमण कर प्रोम इकाई की सराहना की तथा केंद्र की अन्य प्रदर्शन इकाईयों (फसल प्रदर्शन, गृह वाटिका, पोषण वाटिका, शेड नेट हाउस, तरल जैविक उत्पादन इकाई) का भी अवलोकन किया । इसी क्रम मे न्यास द्वारा संचालित कारीगर हस्तशिल्प एवं  शिशु वाटिका की प्रदर्शनी का अवलोकन कर अंत मे सीड हब भण्डारण एवं प्रसंस्करण केंद्र का भ्रमण किया गया।

     

    https://youtu.be/Axb1jaqKcUs

    गौ आधारित के.व्ही.के गोविंदनगर के मार्गदर्शन में तिंदवाड़ा के सफल किसान गोपाल कुशवाहा सफल कृषि कार्य कर रहे हैं । उन्हीं के प्रक्षेत्र पर अटारी जबलपुर के निदेशक डॉ. एस. आर. के. सिंह जी द्वारा किसानो से चर्चा, भ्रमण व अवलोकन किया गया एवं साथ में आर्या परियोजना के अंतर्गत कड़कनाथ मुर्गी पालन कर रहे हैं किसान के कड़कनाथ इकाइयों का भी भ्रमण किये इस अवसर पर केंद्र के प्रभारी डॉ संजीव कुमार गर्ग, डॉ देवीदास पटेल वैज्ञानिक पादप प्रजनक , गृह वैज्ञानिक डॉ आकांक्षा पांडे, उद्यानिकी वैज्ञानिक लवेश कुमार चौरसिया उपस्थित रहे अंत में रवे छात्रों से परिचर्चा भी किये

    कार्यशाला का प्रारम्भ माँ सरस्वती के समक्ष द्वीप प्रज्वलन एवं आईसीआर गीत के साथ किया गया, तदपश्चात् अतिथि परिचय एवं स्वागत के साथ कार्यशाला मे पधारे सभी वैज्ञानिको को कृषि विज्ञान केंद्र, गोविन्दनगर के अध्यक्ष श्री अनिल अग्रवाल द्वारा उद्बोधन प्राप्त हुआ, श्री अग्रवाल जी ने बताया कि भारत देश मे प्राचीन काल से ही बीज उत्पादन एवं बीज संवर्धन संरक्षण का कार्य हो रहा है, हमे देशी बीज का संरक्षण करना जरुरी है, इसलिए बीज संरक्षण हेतु हमे कृषकों को जागरूक करना चाहिए।

    आज के कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. वेद प्रकाश चहल, अतिरिक्त महानिदेशक कृषि प्रसार भा.कृ.अनु.प.  नई दिल्ली द्वारा मार्गदर्शन प्रदान करते हुए कहाँ कि सभी 16 सीड हब केन्द्रों द्वारा बीज उत्पादन कार्यक्रम सफलता पूर्वक संचालित कर रहे है, जो कि पूरे राज्य में उच्च गुणवत्ता युक्त बीज कृषको को उपलब्ध करा रहे है । कृषि विज्ञान केंद्र गोविंदनगर द्वारा किए जा रहे कार्यो की सराहना करते हुए कहा कि कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा बहुत कम समय में उत्क्रष्ठ कार्य किया जा रहा है एवं सीड हब परियोजना के माध्यम से कृषको को प्रशिक्षण देकर उच्च गुणवत्ता का बीज उत्पादन के लिए प्रशिक्षित करना चाहिए जिससे कृषक स्वयं उच्च गुणवत्ता युक्त बीज उत्पादन कर सके, उन्होंने अपने वक्तव्य में प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने के लिए सभी कृषि विज्ञान केन्द्रों के वैज्ञानिको को मार्गदर्शित किया।

    इसके पश्चात सभी दलहन एवं तिलहन सीड हब प्रभारी द्वारा पीपीटी प्रेजेंटेशन के माध्यम से सीड हब की प्रगति  का प्रस्तुतीकरण किया गया जिसमे कृषि विज्ञान केन्द्र नर्मदापुरम का प्रस्तुतीकरण डॉ.देवीदास पटेल सीड हब  प्रभारी द्वारा  किया गया साथ ही कार्यशाला मे उपस्तिथ भाटापारा ,अंबिकापुर, राजनन्दगाँव, कवर्धा, कांकेर, जंगीर-चापा, बैतूल, नरसिंहपुर, नर्मदापुरम, दमोह, हरदा, टीकमगढ़, उज्जैन, देवास, दतिया, मुरेना कृषि विज्ञान केन्द्रों  ने भी प्रस्तुतीकरण दिए,  तत्पश्चात  सीड हब का संचालन व्यवस्तिथ कैसे किया जाये इस विषय पर सभी वैज्ञानिको द्वारा विस्तृत चर्चा की गयी साथ ही प्राकृतिक एवं जैविक खेती पर भी चर्चात्मक सत्र रखा गया। प्रस्तुतिकरण के निष्कर्ष पर डॉ.एस.आर.के.सिंह, निदेशक (ICAR)अटारी जबलपुर द्वारा विस्तार से चर्चा की गई।

    इस कार्यशाला में न्यास के सह-सचिव श्री केशव माहेश्वरी एवं कृषि विज्ञान केंद्र का स्टाफ उपस्थित रहा। कार्यशाला के अंत में सभी अतिथियों का आभार  व्यक्त  कृषि विज्ञान केन्द्र, गोविंदनगर प्रभारी डॉ. संजीव कुमार गर्ग द्वारा किया गया।

Circular

  • किसान सारथी मोबाइल आधारित कृषि सलाह सेवा
    सभी कृषक बंधू ध्यान देवे https://forms.gle/ACyKyR2Fe3zG37ma6 किसान सारथी मोबाइल आधारित कृषि सलाह सेवा में आपका स्वागत है, यह सेवा आपके कृषि विज्ञान केंद्र गोविंदनगर, नर्मदापुरम के द्वारा निःशुल्क दी जा रही है, ऊपर दिए लिंक पर क्लिक कर अपना पंजीयन कराये एवं कृषि विज्ञान केंद्र गोविंदनगर, नर्मदापुरम काल सेंटर पर काल कर कृषि से सम्बंधित जानकारी एवं समस्याओं का समाधान प्राप्त करे | यदि आप इस सेवा के लिए इच्छुक नहीं है तो इस नंबर 01204741923 पर कॉल करे. पंजीयन के बाद Toll free number – 14426/1800-123-2175 पर काल कर कृषि से सम्बंधित जानकारी एवं समस्याओं का समाधान प्राप्त कर सकते है |
  • KVK में उत्पादन उत्पाद क्रय हेतु उपलब्ध है

  • पौधो में विभिन्न पोषक तत्वों की कमी के लक्षण

  • मलेरिया से सावधान होने का समय है ध्यान दे |

  • कृषि विज्ञान केंद्र से जुड़ने के लिए क्लीक करे
    .

Twitter

4231
122